Meghalaya me kya dekhe, Meghalaya me ghumne ki jagah,

Meghalaya Tourist Places In Hindi |  मेघालय राज्य के बारे में जानकारी

Tour Details Contents

Meghalaya Tourist Places In Hindi |  मेघालय राज्य के बारे में जानकारी

भारत देश के पूर्वी राज्य मेघालय अपने गौरवशाली इतिहास, पर्यटन, कुदरत के वरदान के कारण पूरी दुनिया में विख्यात हैं। इसका हिंदी अर्थ होता है ‘बादलों का घर’। इस राज्य के बहुत सारे गांव, जिले, शहर व नदिया हमारे पड़ोसी देश बांग्लादेश से जुड़े हुए हैं। मेघलाय के इतिहास की बात करें तो यहाँ पर ब्रिटिश शासन बहुत प्रबल था। इसका पता इस बात से लगाया जा सकता है की ब्रिटिश रॉयल अफसरों ने इसे ”  East of Scotland ” ( पूर्व का स्कॉटलैंड ) घोषित कर दिया। क्योकी अंग्रेजों को इस राज्य में उनके अनुकूल सभी सुविधाएं मिल रही थी। ये राज्य जैवविविधता, पशु-पक्षियों व वन संपदा से भरपूर है। मेघलाय राज्य की मुख्य  फसल मक्का, केला, पाइनेपल व दालचीनी हैं। तो आईए जानते हैं मेघलाय के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी;

Meghalaya State Travel Guide 

● भाषा – अंग्रेजी, गारो, खासी व बियाट। 

● अनुमानित जनसंख्या 2021 में – 34 लाख।

● कुल जिले – 11 (ग्यारह)

● राजधानी – शिलोंग (Shillong)

● आर्थिक संसाधन  – कृषि व पर्यटन। 

Total Days To Visit Meghalay कितने दिनों के लिए मेघालय घूमने जाये  

आप 8 दिन यात्रा की प्लानिंग बनाये। 

● मेघालय राज्य के प्रसिद्ध त्यौहार –  खासी, जयन्तिया, गारो, हैजोंग, बियाट,  नल्डिंग कूट, पमचार कूट आदी।

Best weather To Visit Meghalay मेघालय किस मौसम में जाये

सर्दी का मौसम सबसे अच्छा समय है ।  नवम्बर से फरवरी के महीनों में आप घूमने जा सकते हैं।

Meghalaya State Facts मेघालय के बारे में रौचक तथ्य

  • भारत में पितृवंशीय परम्परा का नाम तो आपने सुना ही होंगा लेकिन मेघलाय में ऐसा रिवाज बिल्कुल नही है। यहाँ पर महिला के नाम से ही सारे रीति-रिवाज चलते है मतलब माता-पिता की सारी संपत्ति बेटे को नही बल्की उसकी सबसे छोटी बेटी को दी जायेगी। सबसे छोटी बेटी ही माँ-बाप की सेवा करती है। 
  • मेघलाय के 70 प्रतिशत से भी ज्यादा क्षेत्र जंगलों से गिरा हुआ है। 
  • पूर्वोत्तर के सभी राज्यो के नाम उस राज्य में निवास कर रही जनजातीयो के नाम रखा गया किंतु मेघलाय के साथ ऐसा नही हो सका। यहाँ की जनजातीया गारो व खासी है
  • चावल के लिए सर्वश्रेष्ठ भूमि पंजाब या हरियाणा नही बल्की मेघलाय है। क्यों लगा ना झटका! यहाँ पर चावल की सबसे अधिक किस्में पायी जाती हैं।
  • मेघलाय के सोहरा (चेरापुँजी) नामक कस्बे में सबसे अधिक बारिश होने का रिकॉर्ड दर्ज है।
  • अकेले मेघलाय राज्य में 660 पक्षियों की प्रजातियां निवास करती है। इसके अलावा सैकड़ो किस्म के फूलो कि प्रजातियां वनों में पायी जाती है। 
  • यही पर 250 से ज्यादा तितलियों का निवास स्थान है। तितलियों को देखना है, तो भाई लोगों मेघलाय का दौरा करो। 

How To Reach Meghalay मेघालय कैसे जाये 

मेघालय राज्य पहुँचने के लिए सभी प्रकार के यातायात के साधनों के बारे में जानकारी; 

By Train रेल द्वारा

मेघालय रेल के द्वारा आने के लिए पूरे राज्य में सिर्फ दो रेलवे स्टेशन बने हुए हैं। 

●  Mendipathar Railway station (MNDP)

● Nailbari  (NOLB)

 By Flight हवाई जहाज द्वारा

हवाई जहाज से मेघालय आने के लिए आपको राज्य में दो घरेलू हवाई अड्डे  मिल जायेगा। पहले का नाम शिलोंग एयरपोर्ट है जो शिलोंग सिटी में आया हुआ है वही दूसरे एयरपोर्ट का नाम बालजेक (Baljek) एयरपोर्ट हैं। जो तुरा शहर में मौजूद हैं।

 By Road रोड यात्रा

मेघालय में रोड के द्वारा आने के लिए अपने पड़ोसी राज्य के मुख्य शहरों आइजोल, सिल्चर, अगरतला से जुड़ा हुआ है। आप इंडिया के किसी भी बड़े शहर से आसाम, मिजोरम व त्रिपुरा पहुंचकर मेघलाय पहुंच सकते हैं। 

Meghaalay is Famous For मेघालय राज्य किस चीज के लिए फेमस है?

चावल की सैकड़ों किस्म की फसलों के लिए, बड़े-बड़े जलप्रपात के लिए, पहाड़ी एडवेंचर के लिए,  हर तरफ फैली हरियाली, विभिन्न प्रकार के पेड़- पौधों व पशु-पक्षियों के लिए मेघलाय प्रसिद्ध हैं। यहाँ पर बहुत सारी नदिया है। अगर आपको पाइनेपल फल पसंद है तो मेघलाय की यात्रा करो यहाँ पर अत्याधिक मात्रा में अन्नानास ( pineapple) की खेती की जाती हैं। इसके अलावा मेघलाय पहाड़ो के लिए फेमस है जिसमें आप west Khasi Hills, East Garo Hills, South & West Garo Hills आदि प्रसिद्ध हैं। 

Meghalaya Top Tourist Places Name in Hindi मेघालय में घूमने की जगह

इस पैराग्राफ के अंदर हमने आपके लिए मेघालय भ्रमण के लिए 10 टॉप टूरिस्ट प्लेस को चुना है। इसके साथ ही हमने इन दस पर्यटक स्थलों के बारे में सम्पूर्ण जानकारी साझा की है, ताकी आप आराम से बिना रिस्क यात्रा कर सके।  इसके बारे में ये वो पर्यटन स्थल है जहाँ पर हर भारतीय यात्री या विदेशी पर्यटक को घूमने जरूर जाना चाहिये।

Nohkalikai Waterfalls नोहकालिकाई झरना

नोहकालिकाई झरना मेघालय के शिलोंग शहर से 54 किलोमीटर दूर ईस्ट खासी हिल्स पर मौजूद है। आपको जानकर ताज्जुब होंगा, की ये भारत का सबसे ऊंचा जलप्रपात हैं। भारत या दुनिया का हर व्यक्ति इस झरने के नीचे खड़े रहकर जिंदगी का यह ट्रैवल अनुभव लेना चाहता है। झरने की ऊँचाई 115 फिट है। इस झरने से गिरता दूध जैसा पानी, आसपास जंगल में हरी-भरी घास, चारो तरफ जंगली पशु-पक्षियों आवाजें व प्रकृति माता स्नेह यहाँ आने वाले हर यात्री को अपनी ओर आकर्षित करता है। यात्रियों के लिए दिशा निर्देश है की वे मानसून सीजन में यहाँ पर ना आये क्योकी उस समय काफी तेज रफ्तार से झरने का पानी गिरता है। एंट्री फीस केवल 10 भारतीय रूपये हैं। इंडिया में ग्रुप ट्रेवल के लिए बेस्ट टूरिस्ट प्लेस हैं।

Double Decker Living Root Bridge डबल डेकर ब्रिज मेघलाय

डबल डेकर लिविंग रुट पुल मेघालय के शिलोंग शहर से 65 किलोमीटर दूर Nongriat विलेज, सोहरा, में मौजूद है। आपने बहुत सारे भारत के यात्रा वृत्तांत ट्रैवलर (यूटूबर) को देखा होंगा जिनमें वे मेघलाय को explore करते समय इस ब्रिज का पूरा अनुभव शेयर करते हैं। हर मेघलाय घूमने जाने वाले पर्यटकों को इस ब्रिज पर जरूर जाना चाहिए। यह नदी के अंदर बना हुआ है, पेड़ और पत्तो से जुड़ा हुआ है। इस पुल के बारे में एक और इंटरेस्टिंग फैक्ट्स यह है की ये 500 वर्ष से अधिक पुराना हैं। हर यात्री को एकबार इस पर पैदल जरूर चलना चाहिए। ये आपका एक अद्वितीय (यूनिक) experience होंगा। आप चाहे तो यहाँ पर एकदिन रूक भी सकते हैं। रात को होमस्टे भी कर सकते है।

निष्कर्ष के तौर पर इस ब्रिज के बारे में एक ही बात बोलूंगा – जीवन में एकबार यह एक्टिविटी जरूरकरे वह इस पुल को पुरा पैदल चलकर पार करे अपनी लिमीट को पुश करने का ये बेस्ट प्लेस हैं। 

 

Umiam Lake उमियम झील

उमीयम झील मेघालय के शिलोंग शहर से 15 किलोमीटर दूर शिलोंग के उत्तरी क्षेत्र में मौजूद है। अगर आप मानव द्वारा निर्मित सुंदर झील का दर्शन करना चाहते हैं तो उमीयम सबसे अच्छी जगह है। इसकी खूबसूरती को देखकर आपको वहां से हटने का मन नही होंगा। अगर आप समूह में यात्रा करने जाये तो दिन व शाम दोनो समय झील का  सुंदर नजारा जरूर देखें। 221 वर्गमीटर के क्षेत्रफल में फैली यह झील प्रकृति की एक अद्भुत छटा को बिखेरती हैं। इस झील के अंदर आप नौका विहार (बोटिंग) भी कर सकते हैं। इसी के साथ इन सब खूबियों की बदौलत यह झील मेघलाय का नंबर एक टूरिस्ट अट्रैक्शन बनता हैं। 

Krang Suri Falls करंग सूरी जलप्रपात

मेघालय के west jaintia hills जिले के जवाई में आया ये Krang Suri Falls बहुत ही आलीशान जगह है। यहाँ पर आप तैराकी ( स्विमिंग) का आनंद ले सकते हैं। अगर आप एक प्राकृतिक व फ्री swimming pool ढूढ़ रहे हैं तो इस krang सूरी झरने पर आ जाये।  वही ये झरना मेघलाय राज्य के सभी झरनों में सबसे खूबसूरत झरनों की लिस्ट में टॉप पर है। यहाँ पर आपको पूरा पानी एक दम नीला कलर दिखेंगा। ठंड के मौसम में बिल्कुल ना जाये क्योकी पानी में बर्फ जम जाती है तो आप तैराकी नही कर पाओंगे।

Mawlynnong Village मव्लिलोंग गाँव

मेघालय राज्य के शिलोंग शहर से 78 किलोमीटर दूर East Khasi हिल्स जिले पर मौजूद है। मावलिननोंग गांव सन् 2003 में भारत का सबसे साफ-सुथरा (स्वच्छ) विलेज घोषित किया गया। और हमारे देश के पर्यटन के लिए एक अच्छी बात ये है की ये ना सिर्फ इंडिया बल्की पूरे एशिया का सबसे साफ गांव ( Cleanest Village) घोषित किया गया। कुछ बाते है जो इस गांव को एशिया महाद्विप का सबसे स्वच्छ शहर बनाती हैं;-

● यहाँ के हर घर में बांस के कूड़ेदान (कचरा पात्र) हैं। 

● इस गाँव में आप प्लास्टिक कैरीबैग थैली का उपयोग नही कर सकते। 

● यहाँ पर धूम्रपान पूरी तरह से निषेध है। 

Dawki River  डौकी नदी

मेघालय के शिलोंग शहर से 81 किलोमीटर दूर डौकी गाँव पर मौजूद है। डौकी भारत और बांग्लादेश  बॉर्डर पर स्थित हैं यही से इन दोनों देशों का इस नदी के द्वारा समुद्र व्यापार भी होता हैं। यहाँ पर सबसे ज्यादा मजा आपको नाव में बैठने का आयेगा। एक गहरे नीले-हरे पानी में लंबी नाव में बैठकर नदी की यात्रा गजब का सुकून देती हैं ज्यादातर पर्यटक यहाँ पर बोट राइड के लिए ही आते हैं। वही आप यहाँ दो देशों की लोकेशन को एक जगह देखने का आनंद भी ले सकते हैं। 

Balpakram National Park बलपक्रम राष्ट्रीय उद्यान

मेघालय राज्य के  Tura, South Garo hills पर मौजूद ये बालपकराम नेशलन पार्क वन्यजीव प्रेमियों के लिए बहुत अच्छी जगह हैं। बहुत सारे ट्रेवलर होते हैं जो “नेचर ट्रेवल” करना पसंद करते हैं। उन्हें बाकी कुछ अच्छा नही लगता। यहाँ पर वनस्पति जगत के सभी जीव – जंतुओं का डेरा आपको देखने को मिलेंगा। इस नेशनल पार्क का कुल क्षेत्रफल 200 वर्गमीटर हैं। यहाँ पर आप अधिक संख्या में काकड़ हिरन और जंगली बिल्ली का घर देखेंगे। बालपकराम पार्क सुबह 7 से रात्रि 6 बजे तक खुला रहता है 

Air Force Museum Meghalaya एयर फोर्स म्यूजियम मेघालय

 मेघालय के अपर शिलोंग में मौजूद भारतीय वायुसेना का संग्रहालय –  इंडियन एयर फोर्स के शौर्य, बलिदान और इतिहास का गवाह है। इस म्यूजियम के अंदर वायुसेना के एयरक्राफ्ट,  इंडो-चीन व इंडो – पाकिस्तान के युद्ध के रंगीन फोटोग्राफ भी लगे हुए हैं। इसके अलावा आप वायुसेना की पोशाक, मिसाइल व रॉकेट को भी इसके अंदर देखेंगे। अगर आप भारत के रक्षा फोर्स का ज्ञान लेना चाहते हैं तो यह जगह सबसे अच्छी है। इसके अलावा इस म्यूजियम में गिफ्ट शॉप भी है जहाँ से आप कुछ नया और यूनिक आइटम अपने घर पर लेकर जा सकते हैं। आप यहाँ पर  किसी भी सीजन में सुबह 9:30 से 5 बजे के बीच में आ सकते हैं। 

Nokrek National Park नोकरेक राष्ट्रीय उद्यान

मेघलाय राज्य के तुरा, वेस्ट गारो हिल्स मोजूद नोकरेक राष्ट्रीय उद्यान जैव विविधता ( biodiversity) को समझने व जानने के इच्छुक यात्रियों के लिए एक शानदार जगह है। जैव विविधता के अलावा नेचर लवर के लिए भी ये जगह बहुत बढ़िया है। आपको जानकारी के लिए बता दे, की यह स्पॉट विश्व विरासत स्थल ( यूनेस्को) की लिस्ट में शामिल हैं। यहाँ पर आप हाथी, जंगली बिल्ली, लाल रंग के पांडा, टाइगर व विभिन्न प्रकार की प्रजातियों के पक्षीयो को देखेंगे। इसका प्रवेश शुल्क प्रतिव्यक्ति 40 रूपये हैं। 

Arwah Cave अरवा गुफा

अरवा गुफा, मेघलाय राज्य के चेरापूंजी में आया हुआ है। ये गुफा सिर्फ भारत ही नही बल्की पूरी दुनिया की एक सबसे बङी, व्यापक और अद्भुत गुफा संरचनाओ में से एक है। यह जगह भी मेघलाय के टॉप टूरिस्ट प्लेस के अंदर शामिल हैं। यहाँ पर सबसे गजब देखने लायक  गुफाएं व प्रकृति की कलाकृतिया हैं। यह पूरी जगह नेचुरल सामानों के तहत सजाई गई है। यहाँ के अंदर आप एडवेंचर एक्टिविटी भी कर सकते हैं और बहुत कुछ पुरानी यादें ताजा कर सकते हैं।

【 Conclusion 】

आज आपने मेघालय के मुख्य पर्यटक स्थल व राज्य बारे में सारी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त की। शेयर करे सभी ट्रैवलर के साथ। हमें उम्मीद है आपकी मेघलाय यात्रा इस पोस्ट को पढ़ने के बाद सुगम होंगी।  तब तक के लिए सभी घूमने वालो को शुभ यात्रा व मेरा सलाम। क्योकी असली आनंद यही है।

Related Articles 

Top Visiting Places In Himachal Pradesh Hindi – हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल

Kasol Tourist Places Tour Guide | कसोल के पर्यटन स्थल

Best Places to Visit in Tripura Hindi Me

Manipur Tourism In Hindi मणिपुर ट्यूर हिंदी में

Nagaland Tour In Hindi – नागालैंड यात्रा गाइड हिंदी में

Shimla Tour In Hindi | शिमला में कहाँ पर घूमे?

Kashmir Tourist Places In Hindi कश्मीर में घूमने की जगह

नैनीताल में घूमने की जगह | Nainital Tourist Places In Hindi

Leh Ladakh Tour In Hindi | लेह लद्दाख कहाँ पर है और क्या देखे?

Kodaikanal Tourism In Hindi – कोडैकनाल की खूबसूरत जगह

Mussoorie Tour In Hindi | मसूरी की अति सुंदर पर्यटन स्थल

The Next Destination Tawang | Best Places to Visit Tawang In Hindi |

Ooty Tour In Hindi | ऊटी ट्रिप यात्रा महत्वपूर्ण जानकारी

 Gangtok Tour In Hindi | गंगटोक में क्या देखे व कहाँ पर घूमने जाये ?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *