Top Places To Visit in Modhera

मोढेरा के 10 सबसे अच्छे पर्यटक स्थल | Top Places To Visit in Modhera in Hindi

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में हम बात करने वाले है। मोढेरा के 10 सबसे अच्छे पर्यटक स्थ्ल | Top Places To Visit in Modhera in Hindi तो लास्ट तक जरूर पढ़े यहाँ से आपको एक अच्छा ज्ञान प्राप्त होगा।

स्वागत है आपका आज की इस यात्रा मे । यात्रा एक ऐसे ऐतिहासिक स्थान की जिसकी स्थापत्य कला पर्यटको को दांतो तले उंगली दबा देने पर मजबूर कर देती है 

आज हम जाने वाले है एक मंदिर की सैर पर, जी हाँ मंदिर जिसमे बेशक आज के समय मे पूजा अर्चना नही होती है पर एक समय पर ये मंदिर हजारो लाखो श्रधालुओ की आस्था का केंद्र था ।

तो कमर की पेटी बांध लिजीये और चल पडीये भारत के गुजरात राज्य के मेहसाना शहर से 25 किलो मीटर दूर एक छोटे से गांव मोढेरा मे 

 

मंदिर का इतिहास 

Top Places To Visit in Modhera in Hindi

 

सोलंकी वंश के राजा भीमदेव प्रथम इस भू भाग पर 11वी सदी मे राज किया करते थे क्योंकि सोलंकी राजा सूर्यवंशी थे, और सूर्य को कुलदेवता के रूप में पूजते थे। 

इसीलिए उन्होंने अपने आद्य देवता की पूजा के लिए इस भव्य सूर्य मंदिर बनाने का निश्चय किया, पर वो कोई साधारण मंदिर नही बनवाना चाहते थे वो चाहते थे एक ऐसा मंदिर बनवाना जिसके जैसा कोइ और मंदिर ना हो।

गहन चिंतन और मनन के मोढ़ेरा के इस सूर्य मंदिर का निर्माण 1026 ई मे  हुआ। 

पर क्या केवल अपने आरध्य की पूजा करना ही एक मात्र उद्देशय था कि इस मंदिर का निर्माण करवाया गया 

इतिहासकार ए.के. मजूमदार के अनुसार मानते है कि ,सन 1024-25 के दौरान, गजनी के महमूद ने भीम के राज्य पर आक्रमण किया था, और लगभग 20,000 सैनिकों की एक टुकड़ी ने उसे मोढेरा में रोकेने का असफल प्रयास किया था। तब  इस घटना को संस्मरण मे रखने के लिये इस सुर्य मंदिर का निर्माण करवाया हो 

इस मंदिर पर फिर गजनी से आये आक्रंता ने  भीषण आक्रमण किया व लाखो लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। इसी के साथ उसने संपूर्ण मंदिर का विध्वंस किया और मंदिर को खंडित कर दिया। इतना ही नहीं उसने मुख्य मूर्ति को भी खंडित कर दिया व यहाँ से सभी सोना व आभूषण लूटकर अपने साथ ले गया। 

Read More 

मंदिर की रुपरेखा

Top Places To Visit in Modhera
Top Places To Visit in Modhera in Hindi

Top Places To Visit in Modhera

यह सूर्य मन्दिर अपनी विलक्षण स्थापत्य और शिल्प कला के लिये विश्व भर मे प्रसिद्ध है हैरान कर देने वाली बात ये है कि इस मंदिर के निर्माण में जोड़ लगाने के लिए कहीं भी चूने का प्रयोग नहीं किया गया है। 

अपनी अद्भुत रचना की नजर से ये मंदिर सोलंकी राजाओ के बनवाए गये मंदिर मे सबसे बढिया है।

 

सुर्य कुण्ड/ राम कुंण्ड 

Top Places To Visit in Modhera in Hindi

 

मंदिर के प्रानग़ण मे प्रवेश करते ही आपकी नजर पडती है एक कुंड पर । कुंड जो कि आयतकार है (लम्बाइ 176 फीट और चौडाइ 120 फ़ीट) इस कुण्ड के पानी तक पहुचने के लिये चारो और बहुत सुंदर सीढिया बनी हुइ है। आप महसुस कर सकते है इतिहास को यहा सांस लेते हुए।

 सीढियो के पास चारो तरफ बहुत से छोटे छोटे मंदिर बने हुए है। माना जाता है कि एक समय मे कुंड की इन सीढियो पर 108 मंदिर थे जो अलग अलग देवी देवता को समर्पित थे । बेशक अब कुछ मंदिरो का अस्तित्व नही रहा परंतु जो अभी बाकी है वो गवाही देते है एक गौरवशाली इतिहास की । इन मंदिरो मे भगवान विष्णु , और अन्य देवी देवताओ की मुर्तिया स्थापित की गई है। 

इस कुण्ड को राम कुण्ड कहे जाने के पीछे भी एक पौराणिक कथा का वर्णन मिलता है माना जाता है कि जब  भगवान श्रीराम ने लंका के राजा रावण के संहार के बाद अपने गुरु वशिष्ठ को एक ऐसा स्थान बताने के लिए कहा, जहाँ पर जाकर वह अपनी आत्मा की शुद्धि कर सकें और ब्रह्म हत्या के पाप से मुक्ति पा सकें। तब गुरु वशिष्ठ ने श्रीराम को ‘धर्मरण्य’ जाने की सलाह दी थी। कहा जाता है भगवान राम ने ही धर्मारण्य में पूजा की और इस कुंड के साथ साथ इस गांव को भी बसाया।

कुण्ड की खुबसुरती दर्शको को मोहित करती है और अब हम देखते है सभा मंडप की तरफ । कूंड से ऊपर की तरफ जाती हुइ सीढिया आपको दो विशाल खम्बो के पास ले जाकर रोक देती है इन खम्बो पर किसी समय एक बहुत सुंदर तोरण होता होगा ये आप एक बारगी ही देखकर समझ जाते है । इन खम्बो पर अद्वित्य कलाकारी की गयी है जो बताती है कि कारीगर कितने कुशल रहे होंगे 

 

सभा मंडप 

Top Places To Visit in Modhera in Hindi

 

इस अद्भुत तोरण को पार करने के बाद आप आते है इस अद्भुत मंदिर के सभा पर्व मे, सभा पर्व जिसे कई बार नाट्य मंडप के रूप मे भी जाना जाता है  में कुल 52 स्तंभ हैं। इन स्तंभों पर  देवी-देवताओं के चित्रों के अलावा रामायण और महाभारत के प्रसंगों को बेहतरीन कारीगरी के साथ दिखाया गया है। इन स्तम्भो को देख कर आप खो जाते है इतिहास के पन्नो मे.  इन स्तंभों को नीचे की ओर देखने पर वह अष्टकोणाकार और ऊपर की ओर देखने से वह गोल नजर आते हैं। 

 

गुढामंडप 

Top Places To Visit in Modhera in Hindi

 

सभा मण्डप से बाहर की और आकर देखते है कि मंदिर की बाहरी दीवारों को अत्यधिक सुंदरता से सजाया गया है। मंदिर और हॉल के बेस और भीतरी  दीवारों को बहुत अनूठी नक्काशी के साथ सजाया गया है। 

जिस भाग पर गर्भग़ृह के बेस को एक खुब्सुरत उल्टे कमल के रूप में ढाला गया है। आप महसुस कर सकते है कि गुढामंडप कि दिवारो पर भगवान सुर्य कि बहुत सुंदर मुर्तिया उकेरी गयी है। इस भाग कि सबसे बडी खुबी है वो बडे बडे झरोखे जिनसे सुबह कि सबसे पहली रोशनी मंदिर के गर्भग़ृह मे आती है ।

गर्भग़ृह

Top Places To Visit in Modhera in Hindi

 

ये मंदिर का वो भाग है जहा एक समय पर भगवान सुर्य कि बहुत सुंदर मुर्ति हुआ करती है आज इस भाग को बंद कर दिया गया है और इस कारण इस मंदिर मे पूजा अर्चना नही होती है। 

मोढेरा के सूर्य मंदिर की वास्तुकला और उन मंदिर के निर्माण  में किसी भी प्रकार का चुने का इस्तेमाल नहीं किया गया है और इसके नक्काशीदार कारीगरी के कारण इसको गुजरात का खजुराहो के नाम से जाना और पहचाना जाता है। 

क्यो है ना बहुत अद्भुत जगह ।  यदि आप यहाँ घुमने  का विचार कर रहे हैं तो आपको यहाँ अवश्य होकर आना चाहिए। यहाँ पर आपको हमारे इतिहास में निर्मित विशाल मंदिर को देखने के साथ-साथ यह भी देखने को मिलेगा कि हमारे पूर्वज कितने महान थे जिन्होंने उस समय में भी इतनी अद्भुत नक्काशी की थी। देखना चाहिये अपने इतिहास को

Top Places To Visit in Modhera in Hindi : हम उम्मीद करते है की आपको हमारा यह पोस्ट मोढेरा के 10 सबसे अच्छे पर्यटक स्थ्ल | Top Places To Visit in Modhera in Hindi जरूर पसंद आया होगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.