vaishno devi yatra, vaishno deviguide,

Vaishno Devi Yatra In Hindi | वैष्णो देवी मंदिर यात्रा के बारे में सम्पूर्ण जानकारी

Vaishno Devi Complete Travel Guide in Hindi – वैष्णो देवी यात्रा से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी

माता वैष्णो देवी तीर्थ स्थल या मंदिर का नाम भारत के सबसे पवित्र हिन्दू तीर्थ स्थलों में शुमार है और होंगा भी क्यों नही? क्योकी वैष्णो देवी का मंदिर भारत के सबसे शक्तिशाली शक्तिपीठों में से एक माना जाता है। हमारे हिन्दू धर्म के शास्त्रों व ग्रंथो में पवित्र तीर्थ स्थलों पर जाने का आदेश है। वो सिर्फ श्रद्धा-भाव के कारण ही नही बल्की इससे आपका स्वास्थ्य भी अच्छा होता है वह आपको कुछ नया सीखने को भी मिलता है। आज हमारा वादा है आपसे इस पोस्ट को पढ़ने के बाद वैष्णो देवी पवित्र तीर्थ के बारे में आप सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करेगें। उससे पहले नीचे दिया गया लघु परिचय जरूर पढे;

 

Mata Vaishno Devi Quick Travel Guide

● राज्य – जम्मू और कश्मीर

● जिला – रियासी जिला

● पर्वत का नाम – त्रिकुट पर्वत पर वैष्णो देवी का मंदिर स्थित हैं।

● तीर्थ स्थल का नाम – माँ वैष्णो देवी

 

Total Days For Vaishno Devi Yatra कितने दिनों के लिए माता वैष्णो देवी घूमने जाये

पूरी यात्रा में कम से कम आपको पांच दिन और अधिकतम दस दिन का समय लग सकता है। 

 

Food At Mata Vaishno Devi माता वैष्णो देवी में कौनसा Food फेमस है?

यहाँ पर आपको भारतीय सात्विक भोजन मिलेंगा जिसमें रोटी, राजमा-चावल, सब्जियां शामिल हैं। 

Best Weather At Maa Vaishno Devi माता वैष्णो देवी किस मोसम में जाये

सबसे अच्छा मौसम मार्च व अक्टूबर हैं।

 

History Of Maa Vaishno Devi माता वैष्णो देवी का इतिहास

माता वैष्णो देवी को हमारे हिन्दू धर्म की तीन महान देवियों  ने अपने तेज शक्ति से जन्म दिया था। उन तीनो देवियों के वरदान से माँ वैष्णो देवी का पहले जन्म किसी मानव के घर में करवाया। वह फिर माँ वैष्णो भगवान विष्णु के दर्शन करने के लिए जंगलों में घोर तपस्या, साधना और भक्ति की। ऐसा कहा जाता है की नारद मुनि ने उनसे मिलकर भगवान राम के बारे में बताया की ये ही भगवान विष्णु के पुरुष अवतार और उन्होंने राजा दशरथ के घर में जन्म लिया है आप इन्हें भक्ति से प्रसन्न करके प्राप्त कर सकती हैं। इस तरह जबतक भगवान राम, रावण का संहार करके अयोध्या लौट रहे थे तब उन्होंने वैष्णवी नाम की युवती से मुलाकात की। और भगवान राम ने उन्हें आशीर्वाद दिया की कलयुग में, मैं तुम्हे कल्की अवतार में मिलूंगा। तबतक तुम त्रिकुट पर्वत पर विराजमान होकर अपने भक्तों की मनोकामना पूरी करो, संसार में आध्यात्मिकता व शांति की स्थापना करो। प्रभु रामजी ने उन्हें वरदान भी दिया की तुम पूरे विश्व में पूजी जाओंगी। 

 

Best Think About Maa Vaishno Devi Tirth वैष्णो देवी तीर्थ स्थल के बारे में 5 रौचक तथ्य  

  • इस प्राचीनतम गुफा का हिन्दू धर्म में बहुत महत्व है। क्योकी इसमें माँ गंगा नदी का जल निरंतर बहता रहता है। 
  • माता वैष्णो देवी की इस गुफा को गर्भजून के नाम से भी जाना जाता है। इस गुफा में माँ उसी प्रकार नौ महीने रहती है जिस प्रकार एक बच्चा अपने माँ के गर्भ में 9 महीने रहता है।
  • इस गुफा की कुल लम्बाई 98 फिट है। इसके अलावा यहाँ पर एक बड़ा बैठने का स्थान भी है इसे माँ वैष्णो देवी का आसन भी माना जाता है
  • माता वैष्णो देवी का मंदिर जिस गुफा में है उसके नजदीक में ही भैरो नाम के राक्षक का मंदिर भी है जिसका माता ने वध किया था। और उसे मारते समय वरदान दिया था।
  • जितना आप आसान समझ रहे हैं उतना आसान नही है माँ वैष्णो देवी के दर्शन करना क्योकी इस यात्रा के अंदर आपको बहुत सारे पहाड़ो को पार करना पड़ता है

 

How To Reach Maa Vaishno Devi वैष्णो देवी कैसे जाये? 

माता वैष्णो देवी पहुँचने के लिए सभी प्रकार के यातायात के साधनों के बारे में जानकारी; 

By Flight हवाई जहाज द्वारा

माता वैष्णो देवी हवाई जहाज के द्वारा आने के लिए नजदीकी एयरपोर्ट Jammu Airport है जिसकी दूरी 50 किलोमीटर है। 

By Train ट्रेन द्वारा

माता वैष्णो देवी मंदिर रेल के द्वारा आने के लिए  कटरा जम्मू कश्मीर में  “श्री माता वैष्णो देवी रेलवे स्टेशन बना हुआ है।

By Road रोड द्वारा

सड़क मार्ग से माता वैष्णो देवी मंदिर आने के लिए आपको पहले जम्मू कश्मीर के किसी भी बड़े शहर में आना होंगा वहाँ से आप by car, by helicopter, by bus पहाड़ी तक पहुँच सकते हैं। आगे के रास्ते के लिए गाइड इसी पोस्ट में नींचे के subtitle में दी गई है।

 

Vaishno Devi Tourist Guide वैष्णो देवी यात्रियों के लिए गाइड

● माता को कुछ भी चढ़ाने के के लिए आप लाल चुनरी, सूखे मेवे, आभूषण, पुष्प आदि साथ लेकर जा सकते हैं।

● जो भी पैसा आप वहाँ दान करे तो सीलबंद दानपात्र में दान करें। 

● वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने यात्रियों को स्मृति चिन्ह प्रतीक साथ ले जाने की भी व्यवस्था की है इसके लिए आप सोवियत नाम की दुकान से खरीद सकते हैं।

● यहाँ पर महिलाओं व पुरुषो के लिए कुल 46 शौचालय बने हुए हैं।

● हेलीकॉप्टर टिकट बुक करने के लिए आपके पास आधार कार्ड व अन्य सरकारी दस्तावेज

होने चाहिए।

● वैष्णो देवी गुफा तक पैदल यात्रा करने के लिए आपको 12 किलोमीटर तक कि पहाड़ चढ़ाई करनी पड़ेंगी। 

● वही हेलिकॉप्टर से जाने का कुल किराया 1370 रूपये प्रति व्यक्ति है। जो आपको कटरा से सांझीछट तक छोडेंगा। 

● अभी बात करे पिटठू और पालकी तो 1150 रूपये किराये के साथ आपको 50 से 100 रुपये अतिरिक्त चार्ज भी देना होंगा। यह नये आदेश है। 

● अगर आपके परिवार में या आप खुद पैदल नही चल सकते तो ऐसी परिस्थिति में आप  घोड़े, गधे या पेटू (मनुष्य के कंधे पर बैठकर यात्रा करना) तीनो सेवाओ का लाभ उठा सकते हैं। 

● यहाँ पर मुफ्त व paid दोनो प्रकार की भोजन व आवासीय सुविधा उपलब्ध हैं। 

● बाकी आपको जिन मूलभूत चीजो की आवश्यकता है वो सब यहाँ पर उपलब्ध हैं। 

● टोकन पर्ची वैष्णो देवी जाने से पहले उनकी आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन बुकिंग करवाना ना भूले।

 

Tourist place of Vaishno Devi Temple वैष्णो देवी के पर्यटक स्थल

नीचे बताये गए सभी पर्यटक स्थलों को वैष्णो देवी यात्रा के बार जरूर देखें यह भी बहुत ऐतिहासिक महत्व के व लोकप्रिय जगहें हैं।

Bhairon Temple भैरो मंदिर

जब माता राक्षस भैरोनाथ का वध कर रही थी उस समय भैरो को अपनी गलतियों और पापों का अहसास हुआ। ऐसे में माता ने उसको माफ तो किया पर उसके पापों का दंड भी दिया। माता ने अपने त्रिशूल से भैरो का सिर धड़ से अलग कर दिया। कहा जाता है की वह पहाड़ पर तीन किलोमीटर दूर घाटी में पड़ा उसी घाटी का नाम भैरो बाबा घाटी पड़ा और वही पर इनका मंदिर भी बना। माता ने स्वयं यह बात अपने मुख से बोली की भैरो मंदिर के दर्शन किये बिना मेरी यात्रा अधूरी मानी जायेगी।

Shiva Khodi शिवा खोड़ी

माता वैष्णो देवी की यात्रा के बाद आप कटरा से 70 किलोमीटर दूर मोजूद शिवा खोड़ी पवित्र दर्शनीय स्थल की यात्रा करना ना भूले। यहाँ पर भी पर्यटकों और श्रद्धालुओं की भीड़ बहुत अधिक होती है ऐसे में आपको कुछ समय दर्शन के लिए इंतजार भी करना पड़ सकता है। आपको बता दे की शिवा खोड़ी भगवान महादेव की एक पवित्र गुफा है। इस गुफा की कुल लंबाई 1.5 किलोमीटर है और इसके गर्भगृह में 4 फिट ऊंचा एक प्राकृतिक शिवलिंग बना हुआ है। वही इस गुफा के आकार भगवान शिव के डमरू के जैसा है। आपको जानकार हैरानी होंगी इस पूरी गुफा में कुछ जगह आपको रेंगते हुए जाना पड़ेंगा जबकी कुछ जगह इतनी चौड़ी है की 100 लोग एक साथ जा सकते हैं। इस तरह माता वैष्णो देवी के दर्शन करने के बाद इस पवित्र स्थान पर जरूर जाये।

Amar Mahal अमर महल

जम्मू कश्मीर के अमर महल अपने लाल बलुआ पत्थर से पर्यटको को अपनी और आकर्षित करता है। इस महल से आप ऊत्तर में शिवालिक पर्वतमाला के दृश्य का आनंद ले सकते हैं। वही इसके नीचे बहती तवी नदी इस महल की सुंदरता में चार चांद लगा देती हैं। आपको बता दे यह कभी राजा अमर सिंह जी का महल हुआ करता था। जिसे अब म्यूजियम में तब्दील कर दिया गया है। इस म्यूजियम में एक सोने का मुकुट भी है। इसके अलावा संग्रहालय में सोने का सोफा, शेर, पेंटिंग्स गैलेरी व पुस्तकालय भी शामिल हैं। 

Bahu Kila बाहु किला

जम्मू सिटी से 5 किलोमीटर दूर तवी नदी के किनारे स्थित बाहु किला शहर में सबसे पुराना है। इतिहासकारों के अनुसार राजा बहुलोचन ने 3000 साल पहले बनाया गया था। यहाँ पर एक काली माता का प्रसिद्ध मंदिर भी हैं। इस किले में ही एक महामाया दिर और वन नगर मौजूद हैं।  इस तरह निष्कर्ष के तौर पर यह कहा जा सकता है की आपको भक्ति के हिसाब से या दर्शनीय स्थलों को देखने की जिज्ञासा से वैष्णो देवी के दर्शन के बाद बाहु किला जरूर विजिट चाहिये। अभी यह शहर का मुख्य पिकनिक स्पॉट बन चुका है।

 Mansar Lake मानसर झील

जम्मू शहर से 60 किलोमीटर दूर जंगल से भरी हुई पहाड़ियों के पास मौजूद मानसर एक बहुत सुंदर झील है। सबसे अच्छी बात आप इस झील में नौकाविहार (बोटिंग) कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप यहाँ बैशाखी के महीने में आते हैं तो जम्मू व कश्मीर राज्य का पर्यटन विभाग यहाँ पर एक खाद्य व शिल्प मैला का आयोजन भी करता है। वही इसके आसपास के रेस्टोरेंट में आप भारतीय लाजवाब स्वादिष्ट भोजन भी कर सकते हैं। 

Total Expenditure In Vaishno Devi Yatra माता वैष्णो देवी यात्रा का कुल खर्चा कितना आयेगा? 

माता वैष्णो देवी मंदिर की 5 दिन की यात्रा का कुल ख़र्चा 10,000 से 20,000 के अंदर आयेगा।यह एक अनुमानित रकम है इससे ज्यादा या कम भी आ सकता हैं। 

1. Food भोजन –  मंदिर में तो आपका एक रूपया नही लगेंगा वहाँ प्रसाद (भोजन) की व्यवस्था निःशुल्क है। अन्य दिनों के भोजन के खर्चे जोड़े तो 1000 

2. Transport परिवहन –  5000

3. Accommodation रूकने का  – मन्दिर में निशुल्क है लेकिन आसपास किसी शहर में रुकोगे तो 2000 से 5000 के बीच खर्चा आयेगा।

【 Conclusion 】

इस तरह आपने माता वैष्णो देवी जम्मू कश्मीर  तीर्थ यात्रा के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की। आपको इस पोस्ट में कोनसी बाते अच्छी लगी हमारे साथ साझा करें। और हा पोस्ट को शेयर करें सभी माता के भक्तों को। हम आपके वैष्णो देवी टूर के लिए मंगल कामना करते हैं। शुभ यात्रा:)

Related Articles 

Top 10 jain Temple in india in Hindi | भारत के प्रसिद्ध जैन के बारे में जानकारी

Best Places to Visit in Madurai in Hindi

Mysterious Temple in India In Hindi

Haridwar Tour In Hindi | तीर्थनगरी हरिद्वार में क्या देखने लायक हैं?

The 15 Famous Temples To Visit In India In Hindi

Places To Visit In Bodhgaya In Hindi

Mathura Vrindavan Complete Tour Guide In Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *